बुधवार, 4 सितंबर 2019

शिक्षक दिवस'

                   भारतरत्न डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन  का जन्म 5 सितंबर 1888 को तमिलनाडु के तिरुतनी ग्राम में हुआ था।
आज़ाद भारत में पहले उप राष्ट्रपति और डॉ.राजेंद्र प्रसाद के बाद दूसरे #राष्ट्रपति (13 मई 1962 - 13 मई 1967)  के पद को गौरवान्वित किया। भारतीय जीवन दर्शन के महान ज्ञाता, भारतीय #संस्कृति के शिखर पुरोधा, महान #शिक्षक एवं प्रखर वक्ता तो थे ही इसके अतिरिक्त #हिन्दू-संस्कृति के गंभीर विचारक और विज्ञानी भी थे।
                  अपने जीवन के 40 वर्ष शिक्षक के रूप में समर्पित करने वाले डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन को देश ने एक आदर्श शिक्षक के रूप में स्वीकारते हुए उनके जन्मदिवस 5 सितंबर को 'शिक्षक दिवस' के तौर पर मनाने का फ़ैसला किया है।
                   डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के नायाब व्यक्तित्त्व एवं कृतित्त्व के लिये भारत उनका ऋणी रहेगा।
आज उनके जन्मदिवस 'शिक्षक दिवस' पर उन्हें समर्पित हमारा सादर स्मरण।


ये 
दिन 
शिक्षक 
समर्पित 
5 सितंबर 
महान शिक्षक 
एस.राधाकृष्णन। 

है 
शिक्षा
औज़ार 
सँवार लो 
नव जीवन 
पाषाण जीवन 
नमन शिक्षकों को। 
© रवीन्द्र सिंह यादव 


3 टिप्‍पणियां:

  1. भारत रत्न डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी को कोटिशः नमन
    शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ आपको आदरणीय सर
    सादर नमन

    जवाब देंहटाएं
  2. शिक्षक और शिक्षा पर सुंदर वर्ण पिरामिड।

    जवाब देंहटाएं

  3. ये
    दिन
    शिक्षक
    समर्पित
    5 सितंबर
    महान शिक्षक
    एस.राधाकृष्णन।

    है
    शिक्षा
    औज़ार
    सँवार लो
    नव जीवन
    पाषाण जीवन
    नमन शिक्षकों को।.. बहुत सुन्दर सृजन आदरणीय
    सादर

    जवाब देंहटाएं

विशिष्ट पोस्ट

यह कैसा जश्न है ?

अंगारे आँगन में  सुलग-दहक रहे हैं,  पानी लेने परदेश  जाने की नौबत क्यों ? न्यायपूर्ण सर्वग्राही  राम राज्य में ...