शुक्रवार, 23 अगस्त 2019

'ग्लोबल बुक ऑफ़ लिटरेचर रिकॉर्ड्स' 2019 में दर्ज़ किया गया है ब्लॉगर पम्मी सिंह 'तृप्ति' का नाम

भारतीय साहित्य जगत् के लिये एक सुखद समाचार आपके साथ साझा किया जा रहा है। 
जानी मानी ब्लॉगर आदरणीया पम्मी सिंह 'तृप्ति' जी का नाम 
'ग्लोबल बुक ऑफ़ लिटरेचर रिकॉर्ड्स' 2019 में दर्ज़ किया गया है। विश्व की सर्वाधिक लोकप्रिय 111 महिला साहित्यकारों की सूची में एक नाम आदरणीया पम्मी सिंह 'तृप्ति' जी का भी शुमार किया गया है। 
इस शानदार उपलब्धि पर हार्दिक बधाई एवं उज्ज्वल भविष्य की मंगलकामनाएँ। 
साहित्य क्षेत्र के लिये यह एक विशिष्ट उपलब्धि है। देश के लिये गर्वोन्नत होने का शानदार विषय है। सृजन कर्म से जुड़े ऊब चुके रचनाकारों के लिये ऑक्सीजन है। 


           पम्मी जी के सृजन कर्म में मख़मली एहसासात को तसव्वुर में नज़ाकत से संजोया गया है वहीँ जज़्बात को दिलकश अंदाज़ से लबरेज़ करना इनकी ख़ूबी है। इनका कविता कहने का अंदाज़ निराला है जिसमें नवीनता की ख़ुशबू महसूस होती है। सुकोमल भावों को उकेरने लिये ज़रूरी है चिंतन में प्रकृति और सामाजिक सरोकारों का स्पर्श समाहित हो जिसका पम्मी जी ने भरसक प्रयास किया है। 
पम्मी जी साहित्य की विभिन्न विधाओं में निरंतर रचनाकर्म में रत हैं। 
इनकी प्रकाशित पुस्तकें हैं -
1. काव्यकाँक्षी  
2.  24 लेखक 24 कहानियाँ 
3. सबरंग क्षितिज:विधा संगम 
आपके अनेक साझा पुस्तक संग्रह प्रकाशित हो चुके हैं। 
हमारी ओर  से  पम्मी जी को पुनः ढेरों शुभकामनाएँ एवं बधाई। 


8 टिप्‍पणियां:

  1. आदरणीया पम्मी जी को अन॔त शुभकामनाएं । आपकी यश व कीर्ति पताका यूँ ही फहराती रहे और हम गौरवान्वित होते रहें ।

    जवाब देंहटाएं
  2. पम्मी सिंह 'तृप्ति' को उनकी उपलब्द्धि पर हार्दिक बधाई !

    जवाब देंहटाएं
  3. आभार रवीन्द्र जी..
    आपने तो इसे खबर बना दिया..आप सभी के शुभकामनाओं का फल है.
    निशब्द हूँ

    जवाब देंहटाएं
  4. जी नमस्ते,

    आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शनिवार (24-08-2019) को "बंसी की झंकार" (चर्चा अंक- 3437) पर भी होगी।


    --

    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।

    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।

    आप भी सादर आमंत्रित है

    ….

    अनीता सैनी

    जवाब देंहटाएं
  5. बहुत बहुत शुभकामनाएं एवं बधाई पम्मी जी !

    जवाब देंहटाएं
  6. इस उल्लेखनीय शानदार उपलब्धि के लिए बहुत-बहुत हार्दिक शुभकामनाएं एवं बधाई पम्मी जी को !

    जवाब देंहटाएं
  7. पम्मी जी की उपलब्धियों के लिए उन्हें बहुत बहुत बधाई ।।वे एक उम्दा रचना कारा और बहुत प्यारी शख्सियत हैं, हमेशा सौम्य व्यवहार और ऊंचाइयों को छूता बेहतरीन लेखन उनका ।
    लिखने का अनुठा अंदाज़ उन्हें अन्य रचनाकारों से अलग बनाता है।
    उनका साहित्य सृजन अनवरत निर्बाध चलता रहे ये मां शारदे से सदा प्रार्थना है।
    हृदय तल से बधाई।

    जवाब देंहटाएं

विशिष्ट पोस्ट

एहसासात का बे-क़ाबू तूफ़ान

दिल में आजकल  एहसासात का   बे-क़ाबू तूफ़ान  आ पसरा है,  शायद उसे ख़बर है  कि आजकल  वहाँ आपका बसेरा है। ...