यह ब्लॉग खोजें

शब्दों के अर्थ

नई सुबह
इठलाती= चंचल  अदाओं के साथ मटकती या इतराती हुई।
परिंदे   = पंछी ,पक्षी।
बिखरने  =  फैल  जाना , अलग-अलग हो जाना।
नन्हीं = छोटी।
विचरने  = घूमने-फिरने , विचरण   करने।
नियति-चक्र= प्रकृति  का चक्र , समय-चक्र ,काल-चक्र।
पलछिन =समय का बहुत छोटा हिस्सा ,पल,क्षण।
पसरने   = फैलने , विस्तार करने।
सुमन= फूल ,पुष्प।
सुगंध= अच्छी  गंध ,खुशबू ,महक।
बेक़रार = बेचैन, व्याकुल , तड़प से भरा हुआ।
अखरने = बुरा लगने , चुभने ,कचोटने।
बदली =  बादल  का छोटा टुकड़ा।

विशिष्ट पोस्ट

मैं भारत का किसान

मैं  भारत  की शान,  कहते मुझे किसान।  पढ़ना -लिखना सब चाहें  अफ़सर बनना सब चाहें  मैं  देखूँ   खेत-खलिहान।   मैं  भारत  की शान  कहते...